बीसीसीआई ने निकाल लिया आईपीएल के लिए रास्ता

IPL 2020

बाहुबली भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने आखिर आईपीएल के 13वें संस्करण को आयोजित करने के लिए रास्ता निकाल ही लिया. अब इस टूर्नामेंट का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में 19 सितंबर से होगा.

यदि इस सत्र में आईपीएल IPL का आयोजन नहीं होता तो बीसीसीआई BCCI को 4000 करोड़ रुपये का भारी भरकम नुकसान होता.

आईपीएल की शुरूआती टीम डेक्कन चार्जर्स के मुक़दमा जीत लेने के कारण बॉम्बे हाई कोर्ट बीसीसीआई को डेक्कन चार्जर्स को 4800 करोड़ रुपये देने का निर्देश भी दे चुका है.

आईपीएल की शुरूआती टीमों में से एक डेक्कन चार्जर्स को बीसीसीआई ने 2012 में आईपीएल से बाहर कर दिया था जिसे डेक्कन चार्जर्स ने अदालत में चुनौती दी थी.

बीसीसीआई के लिए यह डबल झटका होता लेकिन आईपीएल के आयोजन से उसका एक सिरदर्द तो अब दूर हो चुका है.

  • विश्व कप स्थगित होने के चार दिन बाद ही IPL की घोषणा
  • आईपीएल 19 सितंबर से यूएई में होगा
  • यानी सब कुछ तैयार था
  • केवल विश्व कप के स्थगित होने का इंतजार था

कोरोना ने किया मनोरंजन और खेलों को भी चौपट 

आईपीएल का आयोजन इस साल 29 मार्च से होना था लेकिन कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन और यात्रा प्रतिबंध के चलते बीसीसीआई ने इसे अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया था.

  • आईपीएल को इन हालात में एक विंडो की जरूरत थी
  • यह विंडो सितंबर से नवंबर तक दिखा
  • सितंबर में एशिया कप टी-20 टूर्नामेंट का आयोजन होना था
  • अक्टूबर-नवंबर में टी-20 विश्व कप होना था
  • एशिया कप यूएई में और विश्व कप ऑस्ट्रेलिया में होना था

दिलचस्प बात है कि बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने एक निजी चैनल के साथ बातचीत में यह घोषणा कर दी कि एशिया कप को रद्द कर दिया गया है, जबकि इसके अगले दिन एशियाई क्रिकेट परिषद की बैठक होनी थी और यह घोषणा नियमानुसार इस बैठक के बाद की जानी थी. लेकिन, गांगुली एक दिन पहले ही बता गए कि एशिया कप को रद्द कर दिया गया है.

IPL in UAE

आईपीएल के रास्ते का आखिरी बाधा विश्व कप था और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप को 2021 तक स्थगित कर दिया. इससे आईपीएल के लिए सितंबर से नवंबर तक का विंडो बन गया और IPL 2020 के आयोजन का रास्ता साफ़ हो गया.

विश्व कप स्थगित किए जाने से पहले ही ऐसी खबरें सामने आने लगी थीं कि आईपीएल यूएई में हो सकता है और बीसीसीआई के वरिष्ठ पदाधिकारी ऐसा संकेत दे चुके थे.

आईपीएल संचालन परिषद के चैयरमैन बृजेश पटेल ने आखिर 24 जुलाई को पुष्टि कर दी कि आईपीएल का आय़ोजन यूएई में 19 सितंबर से होगा जिसका फाइनल आठ या 10 नवंबर को होगा.

बीसीसीआई को इसके लिए हालांकि अभी भारत सरकार से मंजूरी की जरूरत होगी. पटेल ने टूर्नामेंट के तीन मुख्य स्थलों के लिए दुबई, अबु धाबी और शारजाह की पुष्टि की है.

यह दिलचस्प है कि जिस यूएई में एशिया कप को रद्द किया गया उसी यूएई में सितंबर के महीने से आईपीएल का आयोजन होगा. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बीसीसीआई सही मायनों में एक बाहुबली है जिसने अपने टूर्नामेंट के लिए रास्ता निकाल लिया. आईपीएल में पूरे 60 मैच होंगे और मैचों में कोई कटौती नहीं की जाएगी.

एक और दिलचस्प बात है कि दुनिया के कई बड़े खिलाड़ी इस बात की लगातार वकालत कर रहे थे कि आईपीएल हर हाल में होना चाहिए जबकि ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट प्रशासक बार-बार कह रहे थे कि विश्व कप का आयोजन बहुत मुश्किल होगा. आखिर आईपीएल के आयोजन का रास्ता साफ़ हो गया है और बीसीसीआई ने भी राहत की सांस ली है.

भारत बोलेगा: जानकारी भी, समझदारी भी

चर्चा में