मालदीव: ख़ूबसूरत ख़्वाब का सच

अगर आपकी एनर्जी कम हो गई है या फिर सुस्ती महसूस हो रही है तो खुद को रिचार्ज करने के लिए मालदीव चले जाएं.

भारत से मालदीव का सफर सबसे आसान है. मुंबई से महज तीन घंटे की फ्लाइट में मालदीव. इतना ही नहीं सैलानियों के लिए 30 दिन तक वीजा फ्री इंट्री की व्यवस्था भी है.

मालदीव को आप द्वीपों का देश कह सकते हैं, कुल जमा 1200 द्वीपों से घिरे इस देश में सामानों की ढुलाई और आवाजाही परेशानी भरा काम है.

सभी काम नावों से ही किए जाते हैं. मालदीव जाने से पहले अगर आप अपने सफर की स्मार्ट प्लानिंग कर लेते हैं और थोड़ी बहुत रिसर्च कर लेते हैं तो जन्नत की खूबसूरती वाले द्वीपों का देश मालदीव ग्रैंड वेलकम करेगा.

maldeivs

सफर का प्लान पहले बना लें

फ्लाइट टिकट और होटल एडवांस में ही बुक करा लें. इससे बचत होगी और परेशानी से छुट्टी भी.

बजट

बजट को लेकर परेशान न रहें. एयरलाइंस और होटल के सभी ऑप्शन को चेक करें और अपने बजट के हिसाब से बुकिंग करें. कई बजट एयरलाइंस हैं जिनकी माले तक उड़ान हैं. अगर कहीं स्टॉप-ओवर भी है तो भी कुछ एक सौ डॉलर तो बच ही जाएंगे. मालदीव के कई आइलैंड पर ठहरने के लिए इकोनोमिकल रिजॉर्ट भी हैं जो आपके पॉकेट और बजट के हिसाब से ऑफर और सुविधाएं देते हैं.

ऑल इनक्लूसिव रिजॉर्ट

मालदीवियन रिजॉर्ट को इंज्वाय करें. यहां रुमों का किराया तो भोजन और ड्रिंक्स पर लगने वाले कॉस्ट से कम ही रहता है. कुछ रिजॉर्ट तो स्पा और वाटर स्पोर्ट्स का आफर साथ में देते हैं, ऑल इनक्लूसिव. 

होटलों के लॉयल्टी प्रोग्राम का मजा लीजिए

अगर लक्जरी का अनुभव लेना हो तो रेट्स पर नहीं जाएं. कई होटल ऑनलाइन फ्लैश सेल भी करते हैं. होटलों के फ्लैश सेल पर हमेशा नजर बनाए रखें.

एयरलाइंस के न्यूजलेटर को साइन अप करें

होटलों की तरह एयरलाइंस भी समय-समय पर ऑफर और ऑफ देते रहती है. खासकर जब एयरलाइन इंडस्ट्री का सीजन डाउन पर रहता है उस दौरान तो ऑफ की घोषणा होती ही रहती है.

पार्टनर कार्ड्स (रिडिम ऑफर)

सभी बैंकों के क्रेडिट कार्ड पर जितनी मील की दूरी आप सफर के दौरान खर्च करते हैं उसके हिसाब से बैंक से जुड़े पार्टनर बिजनेस हाउस आपके कार्ड पर रिडिम ऑफर देते हैं.  

ऑफ पीक ट्रैवल

हालांकि इयर एंड पर यह लागू नहीं होगा, मगर जब आप पीक सीजन को छोड़ कर जाना चाहें तो रेट्स और फेयर में काफी अंतर रहता है और इसका फायदा उठाया जा सकता है.  

साथ में खाने-पीने के हल्के आइटम और जरूरी सामान रखें

मालदीव के होटल और रिजॉर्ट में खाना थोड़ा महंगा होता है और गिफ्टशॉप में सामानों की कीमत थोड़ी ज्यादा रहती है. जरूरी नहीं है कि आप हमेशा होटल या रिजोर्ट के खाने को ही ट्राय करें. रास्ते में आप अपने साथ अगर हल्के खाने-पीने के सामान रखते हैं तो कुछ बचत होगी. लेकिन याद रखें अपने साथ अल्कोहल नहीं ऱखें. द्वीपों पर अल्कोहल लेकर घूमना प्रतिबंधित है. सिर्फ होटल-रिजोर्ट के अंदर ही बैठकर पीने की आजादी है.

नो फ्रिल्स रुम

मालदीव महंगा देश है, यह हमेशा ख्याल ऱखें. विला बुक करने और लक्जरी के चक्कर में पड़ने के बजाय, बजट वाले होटल के रुम एडवांस में बुक कर लें तो अच्छा. उससे भी बेहतर यह होगा कि नो फ्रिल रुम प्रेफर करें. यानि ज्यादा समय बीच पर बिताएं और रात में आकर होटल बुक कर कमरे में ठहर जाएं.

गेस्ट हाउस

मालदीव में स्थानीय निवासी भी सस्ते किराए पर अपना घर ऑफर करते हैं. इनका किराया 55 डॉलर औसतन होता है जबकि रिजॉर्ट का किराया 300 डॉलर. हां, गेस्ट हाउस में आपको अपने मनपसंद का खाना नहीं मिलेगा.

चर्चा में